एम्स की अखिल भारतीय परीक्षा में देशभर में अव्वल रहे भिलाई के डॉ. उत्कर्ष

भिलाई
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) द्वारा आयोजित चिकित्सा शिक्षा की सुपर स्पेशलाइजेशन प्रवेश परीक्षा में इस्पात नगरी भिलाई के प्रतिभावान युवा चिकित्सक डॉ. उत्कर्ष ने देश भर में प्रथम स्थान हासिल किया है।डॉक्टर उत्कर्ष ने अपनी सफलता के बारे में बताते हुए कहा कि लक्ष्य तय कर ले और उसे पाने के लिए कड़ी मेहनत करें, तो आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता।

उल्लेखनीय है कि एम्स द्वारा इंस्टीट्यूट आॅफ नेशनल इंपॉर्टेंस सुपर स्पेशलाइजेशन (आईएनआईएएस) परीक्षा राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित की जाती है, जिसके माध्यम से देश भर के एम्स ,पुडुचेरी स्थित जवाहरलाल इंस्टीट्यूट आॅफ पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च (जिपमर) और चंडीगढ़ के पीजीआई मेडिकल कॉलेज में विषय विशेषज्ञता की डीएम, एमसीएच की डिग्री पाने के लिए प्रवेश मिलता है।

इस प्रवेश परीक्षा में अखिल भारतीय स्तर पर डॉ. उत्कर्ष ने प्रथम स्थान हासिल कर न सिर्फ दुर्ग-भिलाई बल्कि समूचे छत्तीसगढ़ अंचल का गौरव बढाया है। डॉक्टर उत्कर्ष अब लेप्रोस्कोपिक रोबोटिक और एंडोस्कोपिक सर्जरी में महारत हासिल करेंगे।डा. उत्कर्ष ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा भिलाई इस्पात संयंत्र के स्कूलों से पूरी की है। इसके बाद उन्होंने एमबीबीएस डिग्री मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज न्यू दिल्ली से और एमएस जनरल सर्जरी की परीक्षा एम्स न्यू दिल्ली से हासिल की है।

वे इसके पहले एनटीएसई और केवीपीवाई की परीक्षा में भी सफलता प्राप्त कर चुके हैं। डॉक्टर उत्कर्ष के पिता डॉ उदय धाबर्डे भिलाई इस्पात संयंत्र के जवाहरलाल नेहरू चिकित्सालय एवं अनुसंधान केंद्र सेक्टर-9 के बर्न प्लास्टिक सर्जरी विभाग के विभागाध्यक्ष है तथा माता प्रेरणा धाबर्डे कुशल गृहणी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button