स्व. कैलाश सारंग-प्रसून सारंग की पुण्य स्मृति में 10 जून से 14 जून तक पं. प्रदीप मिश्रा की श्री शिव महापुराण कथा का आयोजन

  • 50 हजार वर्ग फीट में श्रद्धालुओं के बैठने के लिये होंगे  3 वॉटरप्रूफ  डोम
  • पं. श्री मिश्रा के भोपाल आगमन पर 9 जून को निकलेगी शोभा यात्रा

भोपाल

भाजपा के संस्थापक सदस्य स्व. कैलाश सारंग एवं उनकी धर्मपत्नी स्व. श्रीमती प्रसून सारंग की पुण्य स्मृति में भोपाल में पहली बार पं. श्री प्रदीप मिश्रा के मुखारविंद से 10 जून से 14 जून तक 2 बजे से 5 बजे तक श्री शिव महापुराण कथा का आयोजन किया जा रहा है। शहर का सबसे बड़ा धार्मिक आयोजन नरेला विधानसभा अंतर्गत पीपुल्स मॉल के पीछे करोंद स्थित 55 एकड़ मैदान में होगा। कथा में देशभर से लगभग 5 लाख लोगों के आने का अनुमान है। कथा स्थल पर सभी श्रद्धालुओं के बैठने के लिये 50 हजार वर्ग फीट में 3 वॉटरप्रूफ डोम लगाये जा रहे हैं। इसके साथ ही कथा स्थल के समीप ही 200 एकड़ के क्षेत्र में वाहन पार्किंग की भी व्यवस्था की गई है।

50 हजार वर्ग फीट में श्रद्धालुओं के बैठने के लिये होंगे  3 वॉटरप्रूफ  डोम

मंत्री सारंग ने बताया कि कथा में देशभर से लगभग 5 लाख लोगों के आने का अनुमान है। स्थल पर सभी श्रद्धालुओं के बैठने के लिये 50 हजार वर्ग फीट में 3 वॉटरप्रूफ डोम लगाये जा रहे हैं। पंडालों में आने के लिए मेन रोड से 11 द्वार बनाये गये हैं| सभी प्रवेश द्वारों पर नियंत्रण कक्ष बनाये गये हैं, जहाँ पुलिस के जवान और सेवादार व्यवस्था संभालेंगे।

पं. श्री मिश्रा के भोपाल आगमन पर निकलेगी शोभा यात्रा

मंत्री सारंग ने बताया कि पं श्री मिश्रा दिनांक 9 जून 2023 को भोपाल पहुंचेंगे। इस अवसर पर नरेला विधानसभा अंतर्गत अन्ना नगर से कैलाश नगर, रचना नगर, ओल्ड सुभाष नगर, पंजाबी बाग, परिहार चौराहा, अशोक विहार, महामाई बाग, स्टेशन, चांदबड, सेमरा मंडी, सुभाष कॉलोनी, सम्राट कॉलोनी होते हुए विवेकानंद पार्क अशोका गार्डन तक भव्य शोभा यात्रा निकाली जायेगी। उन्होंने बताया कि शहर के 200 से अधिक सामाजिक संगठनों द्वारा पं. श्री मिश्रा का स्वागत किया जायेगा।

श्री शिव महापुराण कथा के बाद घर-घर होगा रूद्राक्ष का वितरण

श्री शिव महापुराण कथा महोत्सव के दौरान किसी भी प्रकार की अव्यवस्था ना हो इसके विशेष इंतजाम किये गये हैं। रूद्राक्ष वितरण को लेकर ऑन लाइन पंजीयन व्यवस्था की गई है। आमंत्रण पत्र पर दिये गये क्यूआर कोड को स्कैन एवं मिस्डकॉल कर पंजीयन किया जा रहा है। पंजीयन के पश्चात पंडित प्रदीप मिश्रा द्वारा अभिमंत्रित रूद्राक्ष घर-घर बांटे जायेंगे।

250 सामाजिक संगठन बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं के भोजन और ठहरने की करेंगे व्यवस्था

5 दिवसीय कथा में शामिल होने आ रहे भोपाल सहित देश के विभिन्न क्षेत्रों के श्रद्धालुओं के भोजन एवं ठहरने की व्यवस्था के लिये शहर के लगभग 250 से अधिक सामाजिक संगठनों द्वारा धर्मशालाओं में व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही कथा स्थल पर भी नाश्ते, पेयजल, शरबत व चिकित्सा शिविरों की भी व्यवस्था की जायेगी।

व्यवस्था समितियों का गठन कर किया कार्य वितरण

भोपाल में पहली बार कथावाचक पं. श्री प्रदीप मिश्रा सीहोर वाले की शिव महापुराण कथा आयोजित की जा रही है। इस पांच दिवसीय कथा के दौरान लाखों श्रद्धालुओं के भोपाल आने का अनुमान है। यही कारण है कि कथा स्थल पर फूली वेंटिलेटेड पंडाल का निर्माण किया गया है। इस पंडाल में लगभग 5 लाख श्रद्धालुओं के आने के साथ ही आयोजन स्थल पर बाहर से आने वाले  श्रद्धालुओं के भोजन व पार्किंग के साथ ही चिकित्सा की भी व्यवस्था की जायेगी। श्री शिव महापुराण कथा मे आने वाले श्रद्धालुओं को किसी भी तरह की परेशानी का सामना ना करना पड़े इसलिए नरेला उत्सव समिति द्वारा विभिन्न व्यवस्था समितियों का गठन किया गया है। जो कि पंडाल, पेयजल, भोजन, यातायात, स्वास्थ्य, प्रचार से लेकर प्रशासनिक समन्वय तक व्यवस्थाएं संभालेंगी। सभी समितियों के समन्वय के लिए 1 नियंत्रण कक्ष होगा|

200 एकड़ में 13 प्रकार की पार्किंग की व्यवस्था

मंत्री श्री सारंग ने बताया कि पीपुल्स मॉल के चारों तरफ  के लगभग 200 एकड़ क्षेत्र को समतल कर 13 प्रकार की पार्किंग व्यवस्था की गई है| यहाँ  लगभग 30 हजार दो-पहिया व चार पहिया वाहन पार्क हो सकेंगे| जिसमें शहर के अलग-अलग दिशाओ की तरफ से आने वाले वाहन पार्क हो जायेंगे जिससे जाम की स्थिति निर्मित नहीं हो सकेगी|

श्रद्धालुओं के लिए बसों की व्यवस्था भी

नरेला विधानसभा के श्रद्धालुओं के कथा स्थल तक पहुंचने के लिए बसों की व्यवस्था भी की जाएगी। कथा के दौरान ढाई हजार वॉलेंटियर अपनी सेवाएं देंगे।

श्रद्धालुओं के लिये होगी यह व्यवस्था

पीपुल्स मॉल करोंद के पीछे बनाये जा रहे 55 एकड़ मैदान में श्रद्धालुओं की सहूलियत के लिये निम्न व्यवस्था की गई है:-

  • 300 अस्थाई टायलेट बनाये गये हैं इसके साथ ही मोबाईल टायलेट भी उपलब्ध होगा।
  • कार्यक्रम स्थल पर 100 से अधिक बड़े-बड़े एलईडी लगाए जा रहे हैं।
  • श्रद्धालुओं के लिये विभिन्न स्थानों पर पानी के टैंकर और कैन रखी जायेंगी। साथ ही पाइपलाइन डालकर  1 हजार नल भी लगाये जा रहे हैं |
  • बाहर से कथा सुनने आने वाले श्रद्धालुओं के रहने के लिये पंडालों में रहने की व्यवस्था की गई है।
  • पंडालों में 200 से ज्यादा कूलर और पंखे भी लगाये जायेंगे। साथ वातावरण के तापमान को कम करने के लिए वाटर इस्प्रिन्क्लर लगाये जा रहे हैं|
  • श्रद्धालुओं के बैठने के लिये गद्दे भी लगाये गये हैं।
  • 20 चिकित्सा शिविर भी लगाये जा रहे हैं।
  • आपात स्थिति से निपटने के लिए फायर ब्रिगेड, एम्बुलेंस की व्यवस्था की गई है।
  • यातायात व्यवस्था में एनसीसी और स्काउट-गाइड के केडिड्स पुलिस की मदद करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button